One Time Password क्या है | OTP Kya Hota Hai पूरी जानकारी

One Time Password Kya Hai (OTP Kya Hai) - आपने कहीं न कहीं OTP के बारे में जरुर सुना होगा लेकिन क्या आपको पता है की यह One Time Password क्या होता है अगर आप नहीं जानते हैं तो इस लेख को पढ़ कर जरुर जान जायेंगे.

आजकल ज्यादातर काम हम Online ही कर लेते हैं. कोई भी Online Transaction हो, मोबाइल Recharge, खरीददारी के बाद Pay करना हो या फिर हम किसी प्रकार का Online Account खोलते हैं उसमे भी OTP का इस्तेमाल अवश्य ही किया जाता है. OTP ज्यादातर मेसेज के जरिये ही भेजा जाता है क्योकि सभी Mobile Handset में Message की सुविधा जरुर होती है. 

चलिए जान लेते हैं की यह क्या है और इसका इस्तेमाल क्यों किया जाता है. साथ ही हम यह भी जानेंगे की इसके फायदे क्या हैं और यह कहाँ कहाँ यूज़ किया जाता है.

OTP Number Kya Hai - OTP in Hindi

One Time Password क्या है (OTP क्या है)

OTP एक Security Code होता है जो ज्यादातर 6-Digit का रहता है. इसके Full Form - One Time Password से ही पता चल जाता है की इसका इस्तेमाल सिर्फ एक बार ही किया जा सकता है. साथ ही ओटीपी एक Verification की विधि है जिससे यह Proof होता है की जिस काम के लिए OTP आ रहा है वह काम आप ही कर रहे हैं कोई और नहीं.

आसान भाषा में यह एक ऐसा Password है जो Computer या अन्य किसी Device पर एक निर्धारित समय के लिए ही मान्य रहता है तथा समय सीमा के समाप्त हो जाने के बाद आप इसका इस्तेमाल नहीं कर सकते हैं.

आप जो Password किसी Online Account के लिए बनाते हैं ओटीपी उससे बिलकुल अलग होता है इसीलिए अगर कभी आपके Password की चोरी हो जाती है या किसी को आपका Password पता चल जाता है तो भी बिना OTP के वह आपके अकाउंट में लाग इन नहीं कर सकता क्योकि ओटीपी तो आपके Registered Mobile Number या Email ID में आएगा.


इसे भी पढ़ें: Signal App क्या है और इसे कैसे यूज़ करे 2021 में


OTP का Use कहाँ किया जाता है

OTP का इस्तेमाल ज्यादातर ऐसे जगहों में किया जाता है जहां किसी दुसरे इंसान से  आपकी निजी जानकारी को कोई खतरा हो सकता है. इसका सबसे अच्छा उदहारण Internet Banking तथा Online Transaction है. 

जब भी आप दोनो मे से किसी भी सुविधा का इस्तेमाल करना चाहेंगे तो आपके Registered Mobile Number पर एक ओटीपी आता है. उस ओ टी पी को डालने के बाद ही आप उस सुविधा का लाभ ले सकेंगे. आज इन दोनों सुविधाओं का इस्तेमाल काफी ज्यादा किया जाने लगा है इसीलिए इसमें OTP अनिवार्य कर दिया गया है, जिससे आपका पैसा सुरक्षित रहे और उसका उपयोग सिर्फ आप ही कर पायें.


Whatsapp में भी लाग इन करते समय मोबाइल में SMS के जरिये एक ओ टी पी आता है. आजकल Google Account में भी 2-स्टेप-वेरिफिकेशन लागु कर दिया गया है जिससे आपके Google खाते में आपके अलावा कोई और लाग इन या Changes न कर पाए.

इनके अलावा सभी इ-कॉमर्स वेबसाइट जैसे Amazon, Myntra, ebay, Snapdeal, Flipkart और डिजिटल वॉलेट प्रदान करने वाली कंपनिया जैसे Phonepe, Mobilkwik, Paytm आदि ओटीपी सुविधा का इस्तेमाल करते हैं जिससे सभी Costomers के ऑनलाइन एकाउंट्स को सुरक्षित रखा जाता है.


OTP का Use क्यों किया जाता है

दुनिया का तकनिकी क्षेत्र में विकास होने के साथ साथ Internet और Computers का उपयोग कुछ लोग गलत कामो के लिए भी करने लगे थे. ऐसे गलत कामो को साइबर अपराध कहा जाता है. अतः ऐसे साइबर अपराधों को कम करने के लिए OTP का इस्तेमाल किया जाता है.

ज्यादातर लोग जो किसी ऑनलाइन अकाउंट के लिए अपना मनचाहा Password बनाते हैं तो उसमें अपना नाम या Date-of-Birth डाल देते हैं या फिर कोई आसान सा Password बनाते हैं जो उन्हें आसानी से याद आ जाये.

लेकिन यह आसान Password आपके ऑनलाइन अकाउंट के लिए खतरा बन सकता है तथा आपका अकाउंट पूरी तरह से सुरक्षित नहीं रहता इसीलिए ओ टी पी की सहायता से इसे और भी Secure बनाया जाता है. क्योकि ओटीपी आपके बनाए गए Password से बिलकुल अलग होता है और हर बार यह अलग अलग अनुक्रम में जनरेट हो कर आता है.


इसे भी पढ़ें: Whatsapp से पैसे कैसे भेजे - Whatsapp Money Transfer in Hindi


OTP कैसे / कहाँ से आता है

अब बात आती है की ये ओ टी पी कहाँ से आते हैं और इन्हें भेजता कौन है. सभी डिवाइस के लिए कुछ Authentification Server होते हैं जिनके अंतर्गत हार्डवेयर और सॉफ्टवेर होते हैं जो हमारे OTP को क्रिएट करने तथा हम तक पहुचाने का काम करते हैं.


OTP के फायदे (Advantages of OTP in Hindi)

1. Security बढाने का: जब हम OTP का इस्तेमाल करते हैं तो यह हमारी सुरक्षा की परत को बढ़ा देता है क्योकि यह सिर्फ Registered Mobile Number में ही आता है अतः सिर्फ हमें पता चलता है. इसकी मदद से आपका ऑनलाइन अकाउंट और भी सिक्योर हो जाता है क्योकि भले ही आपका Password किसी को भी मिल जाये लेकिन OTP के बिना वह Log in नहीं कर पायेगा.


2. OTP Service को सेटअप करना आसान: कुछ साइट्स में OTP को Two-Step-Verification भी कहा जाता है और इसे सेट अप करना काफी आसान होता है. अधिकतर ऐसे साइट्स जिनमे आपकी निजी जानकारी होती है उनमे पहले से ही यह इनेबल रहता है और अगर नहीं है तो आप उसके Settings में जा कर फ़ोन को वेरीफाई करने के बाद इनेबल कर सकते हैं.


3. उपयोगकर्ता का प्रमाण: OTP से इस बात का सबूत मिल जाता है की जिस किसी साईट में या अकाउंट में आप लाग इन करना चाह रहे हैं या फिर कोई ऑनलाइन Transaction कर रहे हैं, वह एक्टिविटी आप ही कर रहे हैं. इसके अलावा जब भी OTP आता है तो उसमे लिखा हुआ रहता है की इसे किसी के साथ भी शेयर न करें क्योकि कई बार ऐसा होता है की कोई हमें बिना बताये हमारे Account में लाग इन करने की कोशिश करता है लेकिन या जरुरी नहीं है की उसके पास भी OTP हो अतः वह लाग इन करने में विफल हो जाएगा.

इसके साथ ही कभी कभी अचानक से भी Two-step-Verification का आप्शन आ जाता है जब कोई Invalid Activity होती है. ऐसे में OTP के जरिये सत्यापन करने के बाद ही आप Account का इस्तेमाल कर पाते हैं.


4. Random Algorithm: सभी प्रकार के OTP सिस्टम Random Algorithm पर काम करते हैं जिसका मतलब होता है की एक बार OTP आ गया और हमने लाग इन कर लिया लेकिन जब हम दूसरी बार लाग इन करने जाते हैं तो इस बार क्या OTP आएगा यह कोई भी नहीं बता सकता. इससे फायदा यह है की अगर गलती से भी OTP किसी ने जान लिया तो दूसरी बार वह नहीं जान पायेगा.


5. हैकिंग से बचाव: यह OTP की सबसे अच्छी सुविधा है की हमें Hacking से सुरक्षा मिल जाती है क्योकि Hacker किसी भी तरह से आपका Username और Password निकाल सकता है इस काम के लिए उसके पास कई सारे टूल्स होते हैं लेकिन OTP पहले से सेट की हुयी नहीं रहती है, OTP हर बार अलग अलग आती है अतः वह आपकी OTP का पता नहीं लगा सकता.


6. Call के दौरान OTP नहीं आता: आपने कभी गौर किया होगा तो आपको पता होगा कि कॉल के दौरान OTP नहीं आता है. ऐसा इसलिए होता है क्योकि हो सकता है की किसी ने कॉल के जरिये आपका मोबाइल हैक कर लिया हो और आपके पास जो भी मेसेज आये वह सीधे उसके पास चला जाये - ऐसा भी होता है. इसीलिए कॉल के दौरान OTP नहीं आता है.


7. OTP सुविधा बिलकुल Free: आपको अपने किसी भी अकाउंट के लिए OTP सुविधा मुफ्त में मिलती है, इसके लिए आपको किसी भी प्रकार से अतिरिक्त शुल्क नहीं देना पड़ता है.इसीलिए इसका इस्तेमाल जरुर करें.



निष्कर्ष

हमने आपको OTP से जुडी लगभग सारी जानकारी बता दी हैं अब आपको जरुर समझ आ गया होगा की OTP Kya Hai और इसे इस्तेमाल करने से हमें क्या क्या फायदे होते हैं लेकिन यह सब कुछ जानने के बावजूद कुछ लोग स्पैम Call या मेसेज के झासे में आ जाते हैं जिससे उनका सारा पैसा निकाल लिया जाता है.

इसीलिए अगर कोई भी ऐसा कॉल या मेसेज आता है और बोले की सिम बंद हो जाएगा या इस नंबर से आपकी लौटरी लगी है आप OTP बताइए तो तुरंत कुछ न करें और अपने मोबाइल का OTP किसी को भी न बताये साथ ही मेसेज को किसी जानकार इंसान को जरुर बताएं.


इन्हें भी पढ़ें:


आपको हमारा यह लेख "One Time Password क्या है" कैसा लगा हमें Comment में जरुर बताएं और लेख से सम्बंधित कोई सवाल आपके मन में है तो उसे भी बताएं साथ ही अगर लेख पसंद आया हो तो Social साइट्स और दोस्तों के साथ जरुर Share करें.

Post a Comment

0 Comments